एनडीए की बैठक के लिए दिल्ली पहुंचे नीतीश और नायडू, बोले- सरकार तो अब बनेगी ही, चंद्रबाबू नायडू ने लगाया अटकलों पर विराम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को लगातार तीसरी बार सरकार बनाने की स्थिति में आ गए हैं। भाजपा नीत राजग को लोकसभा में बहुमत मिल गया है। भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों ने देश में 240 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल की। पार्टी बहुमत के 272 के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई है। अब सरकार के गठन के लिए उसे राजग के अपने सहयोगियों के समर्थन की जरूरत होगी। इससे पहले पार्टी ने 2019 में 303 और 2014 में 282 सीटें जीती थीं।

बिहार के सीएम और जेडी(यू) नेता नीतीश कुमार एनडीए की बैठक के लिए दिल्ली पहुंचे। पार्टी सांसद संजय कुमार झा भी उनके साथ हैं। उन्होंने कहा, “सरकार तो अब बनेगी ही।

आंध्र प्रदेश में तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) ने बंपर जीत दर्ज की है। एनडीए के साथ लड़े चुनाव में चंद्रबाबू नायडू की पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया है। इस बीच लोकसभा चुनाव में भाजपा को बहुमत नहीं मिला और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) भी 300 के आंकड़े से चूक गया। तब से ही अटकलें लगाई जाने लगीं कि तेदेपा और जदयू से ‘INDIA’ के घटक दल बात करेंगे और उन्हें अपने साथ आने के लिए मनाएंगे।

 

लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के प्रमुख चिराग पासवान ने बुधवार सुबह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। मुलाकात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए पासवान ने कहा कि हमने उन्हें बधाई दी और उनका आशीर्वाद मांगा। सीएम ने जिस तरह से राज्य में एनडीए को मजबूत किया है, वह बेहद सराहनीय है। बिहार में गठबंधन के प्रदर्शन का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दोनों को जाता है। हम अब एनडीए की बैठक के लिए दिल्ली जा रहे हैं।

चिराग ने कहा, “किसी को कोई ऑफर नहीं मिल रहा है। NDA एकजुट है। अब वे दिन दूर नहीं जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में NDA का हर एक घटक दल मजबूती से सरकार बनाएगा। शपथ लेने की तैयारी है।”

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के सभी घटक दलों ने भाजपा को आश्वासन दिया है कि वे सरकार बनाने में पार्टी का साथ देंगे। जदयू, लोजपा, टीडीपी, जदएस और शिवसेना दिल्ली में बुधवार को होने वाली एनडीए की बैठक में शामिल होंगे। जानकारी के मुताबिक, चार बजे एनडीए के घटक दलों की महत्वपूर्ण बैठक होगी। इस बैठक में सरकार बनाने को लेकर चर्चा होगी।

Leave a Reply