मोदी के तीसरे शपथ ग्रहण की तैयारियां शुरू, जेपी नड्डा के घर पर बड़ी बैठक, भूटान, श्रीलंका, नेपाल, बांग्लादेश और मॉरिशस के पीएम को भेजा गया न्योता

नरेंद्र मोदी के लगातार तीसरे शपथ ग्रहण की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। अब तक की जानकारी के अनुसार, नरेंद्र मोदी और समेत भाजपा और एनडीए के नेता 7 जून, शुक्रवार को राष्ट्रपति से मिलेंगे और सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। इसके बाद 8 जून को शपथ ग्रहण हो सकता है।

शपथ ग्रहण की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के निवास पर बड़ी बैठक हो रही है।

भाजपा और केंद्र सरकार ने शपथ ग्रहण को भव्य बनाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। मेहमानों की लिस्ट तैयार की जा रही है। देश-विदेश के कई मेहमानों को आमंत्रित किया जा रहा है।

सुबह 11.30 बजे: भाजपा संसदीय दल की बैठक होगी दोपहर 2.30 बजे: एनडीए संसदीय दल की बैठक होगी शाम 5.00 बजे: एनडीए के नेता सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे 8 जून हो सकता है कि नरेंद्र मोदी का तीसरा शपथ-ग्रहण

मोदी ने अपने शपथ ग्रहण समारोह के लिए भूटान के नरेश, श्रीलंका के राष्ट्रपति, नेपाल, बांग्लादेश और मॉरिशस के पीएम को न्योता भेजा है। लगातार तीसरा टर्म जीतने पर दुनिया भर के नेताओं ने नरेंद्र मोदी को बधाई दी है।अमेरिक के राष्ट्रपति जो बाइडेन, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भी बधाई संदेश भेजे हैं। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने नरेंद्र मोदी को फोन करके चुनाव में जीत की बधाई दी। इसके बाद नरेंद्र मोदी ने उन्हें अपने शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता दिया।

श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे के हवाले से बताया गया कि प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति को शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित किया है और विक्रमसिंघे ने आमंत्रण स्वीकार कर लिया है। विक्रमसिंघे दिल्ली रवाना होने की तैयारी कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी की बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से फोन पर बात हुई है

मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री तक का सफर तय करने वाले नरेंद्र मोदी पहली बार अब गठबंधन की सरकार चलाएंगे। बुधवार को एनडीए में शामिल सहयोगी दलों के नेताओं की बैठक दिल्ली में लोक कल्याण मार्ग स्थिति पीएम आवास पर हुई। बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह लगातार तीसरी बार का जनादेश है, जो भारत में 60 साल बाद मिला है। इस दौरान चंद्रबाबू नायडू और नीतीश कुमार ने भी सरकार गठन में तेजी लाने की बात कही। सहयोगी दलों के नेताओं ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सराहना की।

एनडीए की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जे.पी. नड्डा, राजनाथ सिंह, अमित शाह, चंद्रबाबू नायडू, नीतीश कुमार, एकनाथ शिंदे, एच.डी. कुमारस्वामी, चिराग पासवान, जीतन राम मांझी, पवन कल्याण, जयंत चौधरी समेत 10 से ज्यादा सहयोगी दलों के नेता शामिल हुए। बैठक में नरेंद्र मोदी को एनडीए संसदीय दल का नेता चुनने का फैसला किया गया। इस बैठक में मौजूद सभी सहयोगी दलों ने अपना समर्थन पत्र भी सौंप दिया।

बैठक के बाद राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने निवर्तमान कैबिनेट के लिए राष्ट्रपति भवन में डिनर का आयोजन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने निवर्तमान कैबिनेट के साथ राष्ट्रपति भवन पहुंचे। डिनर कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी मौजूद रहे। डीनर कार्यक्रम में 17वीं लोकसभा कैबिनेट के ज्यादातर सदस्य मौजूद थे। बता दें कि 17वीं लोकसभा का कार्यकाल 16 जून को होने वाला है। इससे पहले नई सरकार का गठन कर लिया जाएगा।

 

Leave a Reply